होटल शांति पैलेस मामला,,,,,अर्थ पिशाच शासकीय अधिकारी भी जाएंगे जेल

शांति पैलेस के मामले में बड़ी कार्रवाई, पूर्व एसडीएम, कांग्रेस नेता सहित 12 पर प्रकरण दर्ज


 


उज्जैन। नानाखेड़ा स्थित होटल शांति पैलेस के मामले में मंगलवार को आर्थिक अपराध अनुसंधान प्रकोष्ठ ने बड़ी कार्रवाई की है। होटल संचालक चंद्रशेखर श्रीवास और कांग्रेस के एक बड़े नेता के साथ ही गृह निर्माण संस्थाओं के 2 पूर्व अध्यक्ष और 7 सरकारी अधिकारी-कर्मचारियों के खिलाफ धोखाधड़ी की धाराओं में अपराध दर्ज किया है। यह कार्रवाई हाईकोर्ट के निर्देश के बाद हुई जांच के आधार पर की गई है।


आर्थिक अपराध शाखा ने मंगलवार को चंद्रशेखर श्रीवास निवासी सुदामा नगर, संपत्ति में भागीदार उनके परिवार की एक महिला, आदर्श विक्रम गृह निर्माण सोसायटी के अध्यक्ष और कांग्रेस नेता योगेश पिता भगवती लाल शर्मा निवासी फव्वाराचौक, नमन गृह निर्माण संस्था के अध्यक्ष मनोज पिता बालकृष्ण बंसल निवासी ऋषिनगर, अंजली गृह निर्माण संस्था के अध्यक्ष नंदकिशोर पिता कृष्ण गोपाल शर्मा निवासी विवेकानंद कॉलोनी के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। इस प्रकरण में तत्कालीन पटवारी आदर्श जामगढ़े, टी एंड सीपी के तत्कालीन संयुक्त संचालक राजीव कुमार पांडेय, तत्कालीन एसडीएम आर.एस. मीणा, नगर निगम रतलाम के वर्तमान एक्जिक्यूटिव इंजीनियर और उज्जैन नगर निगम में पूर्व में पदस्थ रहे जी.के. जायसवाल, सब इंजीनियर श्याम सुंदर शर्मा, नगर निगम स्टोर विभाग के लिपिक भूपेंद्र वेगड़ और नगर निवेश विभाग के सुप्रीटेंडेट इंजीनियर रामबाबू शर्मा को भी आरोपी बनाया है। इन सभी आरोपियों ने तीन गृह निर्माण संस्थाओं की जमींन को आपसी सांठ-गांठ कर पहले आवासीय के रूप में डायवर्ट कराया और बाद में इसे कृषि उपयोग की बताकर होटल संचालक को बेच दिया। होटल संचालक चंद्रशेखर श्रीवास ने इस जमींन को नियमों के विपरीत जाकर होटल निर्माण की अनुमतियां प्राप्त की थी। पिछले साल हाइकोर्ट के निर्देश पर होटल शांति पैलेस को जमींदोज कर दिया गया है।


Popular posts
ओ माय गॉड,,,, महाकाल में नौकरी और करतूत इतनी गंदी,,,,,,
Image
अमलतास हॉस्पिटल में पत्रकार सम्मान व कॉकलियर इम्प्लांट ऑपरेशन किया गया।
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
122 साल पुराने उज्जैन के नक्शे को आधार बनाकर,,, तालाबों की जमीन हड़पने वालों पर शिकंजा कसेगा,,, उज्जैन जिलाधीश के निर्देश से जमीन पर कब्जा करने वालों में हड़कंप मचा
Image
उज्जैन कलेक्टर के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि,,,130 करोड़ रुपये कीमत की 3 हेक्टेयर जमीन शासकीय हुई,,,,पूर्णिमा सिंघी, प्रमोद चौबे और श्री राम हंस यह है तीन आधार स्तंभ जिनकी मेहनत और सच्चाई रंग लाई
Image