माधव नगर से पाँच लोग कोरोना संक्रमण से पूर्णत: स्वस्थ होकर घर लौटे

कोरोना के उपचार के दौरान डॉक्टरों द्वारा परिवार के सदस्यों की तरह रखा गया खयाल,माधवनगर चिकित्सालय में मिली उत्तम श्रेणी की सुविधाएं


 


उज्जैन ।गुरूवार को शासकीय माधवनगर चिकित्सालय से पाँच लोग कोरोना संक्रमण से पूर्णत: स्वस्थ होकर अपने घरों को लौटे। अपने घर जाने की खुशी लोगों के चेहरे पर साफ झलक रही थी। लोगों ने कोरोना के उपचार के दौरान अस्पताल के चिकित्सकों और संपूर्ण मेडिकल स्टॉफ द्वारा दिये गये सहयोग और अपनेपन तथा यहाँ मिली उत्तम श्रेणी की सुविधाओं के लिए तालियाँ बजाकर डॉक्टर्स के प्रति आभार व्यक्त किया।


 


इस दौरान सीएमएचओ डॉ. महावीर खण्डेलवाल, नोडल अधिकारी डॉ. एच.पी. सोनानिया, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. भोजराज शर्मा, डॉ. संजीव कुमरावत, डॉ. मनोज शाक्य, डॉ. अखण्ड एवं समस्त चिकित्सा स्टॉफ मौजूद था। सभी डॉक्टरों और स्टॉफ के लोगों ने ठीक होकर घर जा रहे लोगों की हौसलाअफजाई की और चिकित्सालय में ईलाज के दौरान उन्हें मिले अनुभव हल्के-फुल्के वातावरण में साझा किये। चिकित्सकों द्वारा लोगों को समझाईश दी गयी कि वे कुछ दिनों के लिए सेल्फ आयसोलेशन में रहें तथा परिवार एवं सगे-संबंधियों को यह संदेश दें कि कोरोना के लक्षण होने पर बिना देरी किये जाँच करवाएं और चिकित्सक से परामर्श लें। कोरोना से घबराएं नहीं और अपने आपको और दूसरों को सुरक्षित रखें तथा यह प्रेरणा दें कि सही समय पर ईलाज प्रारंभ होने पर कोरोना जैसी महामारी को भी हराया जा सकता है।


 


अपने घर जा रहे एक व्यक्ति ने कहा कि उन्हें माधवनगर चिकित्सालय में ईलाज के दौरान बहुत अच्छी सुविधाएं प्रदाय की गई। यहाँ डॉक्टरों और मेडिकल स्टॉफ का रवैया अत्यंत सकारात्मक और सहयोगात्मक रहा। लोगो को एक सकारात्मक वातारण मिला जिस वजह से वे इस बीमारी से तेज गति से स्वस्थ हो सके। व्यक्ति ने कहा कि चिकित्सकों द्वारा उनका खयाल बिलकुल परिवार के सदस्य की तरह रखा गया। यहाँ उन्हें बिलकुल घर जैसा वातरण मिला। लोगों ने यहाँ नियमित योगा भी किया। भोजन में भी पोष्टिक आहार सभी को दिया गया तथा समय-समय पर चिकित्सकों और समस्त स्टॉफ ने प्रत्येक व्यक्ति के पास जाकर उनका हालचाल जाना तथा किसी भी तरह की समस्या होने पर तुरंत उपचार कर समस्या को दूर किया गया।


Popular posts
122 साल पुराने उज्जैन के नक्शे को आधार बनाकर,,, तालाबों की जमीन हड़पने वालों पर शिकंजा कसेगा,,, उज्जैन जिलाधीश के निर्देश से जमीन पर कब्जा करने वालों में हड़कंप मचा
Image
उज्जैन कलेक्टर के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि,,,130 करोड़ रुपये कीमत की 3 हेक्टेयर जमीन शासकीय हुई,,,,पूर्णिमा सिंघी, प्रमोद चौबे और श्री राम हंस यह है तीन आधार स्तंभ जिनकी मेहनत और सच्चाई रंग लाई
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
उज्जैन के विश्वप्रसिद्ध महाकाल मंदिर परिसर में बिना अनुमति के युवती द्वारा वीडियो बनाकर वायरल किए जाने पर प्रकरण पंजीबद्ध
Image