अवैध कच्ची शराब घर में रखने वाले आरोपी की जमानत खारिज कर जेल भेजा

 


अवैध कच्ची शराब घर में रखने वाले आरोपी की जमानत खारिज कर जेल भेजा।


जावद। श्री रूपसिंह कनेल, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, जावद द्वारा अवैध हाथ भट्टी की कच्ची शराब घर में रखने वाले आरोपी की ओर से प्रस्तुत जमानत आवेदन को अभियोजन द्वारा विरोध करने पर खारिज कर जेल भेजा गया।


सहायक मीडिया सेल प्रभारी एडीपीओ श्री रमेश नावड़े द्वारा घटना की जानकारी देते हुए बताया कि घटना दिनांक 13.07.2020 की शाम 07 बजे ग्राम मोड़ी की है। थाना जावद में पदस्थ एसआई कमलेश गौड़ को मुखबीर से सूचना प्राप्त हुई कि गांव मोडी का कमल हाथ भट्टी की कच्ची शराब लेकर अपने घर तरफ गया हैं। सूचना पर से मय फौर्स के आरोपी के घर पहुॅचे व घर की तलाशी लेने पर घर में दो नीले रंग की प्लास्टिक की केनों में हाथ भट्टी कच्ची शराब होना पाया गया। एक कैन में 25 लीटर तथा दूसरी कैन मे 30 लीटर कुल 55 लीटर हाथ भट्टी कच्ची शराब बल्क मात्रा में पाई गयी, जिस पर शराब को जप्त कर व आरोपी को गिरफ्तार करने के पश्चात् थाना जावद में अपराध क्रमांक 254/2020 धारा 34(2) म.प्र. आबकारी अधिनियम में पंजीबद्ध किया गया। आरोपी को जावद न्यायालय के समक्ष पेश किया, जहाँ आरोपी द्वारा जमानत आवेदन प्रस्तुत किया गया।


*श्री रमेश नावडे, एडीपीओ* द्वारा आरोपी की ओर से प्रस्तुत जमानत आवेदन का विरोध किया गया कि आरोपी द्वारा अवैध रूप से बल्क मात्रा में हाथ भट्टी कच्ची शराब को अपने घर पर रख कर गंभीर अपराध किया हैं, इसलिए आरोपी द्वारा प्रस्तुत जमानत आवेदन खारिज किया जायें। *श्री रूपसिंह कनेल, न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, जावद* द्वारा आरोपी कमल पिता गोवर्धनलाल बाबरी, उम्र-35 वर्ष, निवासी-ग्राम-मोडी, थाना-जावद, जिला-नीमच द्वारा प्रस्तुत जमानत आवेदन खारिज कर जेल भेज दिया गया।


जिला अभियोजन कार्यालय नीमच में.  05 समन्वयकों की नियुक्ति


 नीमच। महानिदेशक/संचालक लोक अभियोजन मध्यप्रदेश श्री पुरूषोत्तम शर्मा, (आई.पी.एस.) द्वारा विभिन्न प्रकरणों में त्वरित निराकरण हेतु प्रत्येक जिले में एक जिला समन्वयक की नियुक्ति का निर्देश दिया गया। उक्त निर्देश के पालन में जिला लोक अभियोजन अधिकारी श्री संजीव कुमार श्रीवास्तव, द्वारा जिला नीमच में समन्वयकों की नियुक्ति की गई है।


 


1. एन.डी.पी.एस. अधिनियम के प्रकरणों हेतु-श्री संजीव कुमार श्रीवास्तव, जिला अभियोजन अधिकारी, एवं सहयोगार्थ श्री विवेक सोमानी (एडीपीओ)  


2. लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम (पाॅक्सों एक्ट) के प्रकरणों हेतु-श्री जगदीश चैहान, (अति. जिला अभियोजन अधिकरी)


3. अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति अधिनियम के प्रकरणों हेतु-श्री चंद्रकांत नाफडे, (एडीपीओ)


4. वन एवं वन्य प्रणी से संबंधित प्रकरणों हेतु-श्री रितेश कुमार सोमपुरा, (एडीपीओ)


5. महिलाओं से संबंधित प्रकरणों हेतु-श्रीमती कीर्ति चाफेकर, (एडीपीओ) 


 श्री पुरूषोत्तम शर्मा, महानिदेशक/संचालक लोक अभियोजन मध्य प्रदेश के अनुसार समाज एवं राष्ट्र को प्रभावित करने वाले अपराध जैंसे महिला एवं बालकों के विरूद्ध लैंगिक शोषण, युवाओं की पूरी आने वाली पीढ़ी को प्रभावित करने वाले ड्रग्स के एवं नशीले पदार्थों के अपराध, समाज के अत्यंत पिछड़े वर्ग अजा एवं अजजा के विरूद्ध भेदभाव वाले अपराध एवं वन्य जीव, वन्य प्राणी व प्रकृति के विरूद्ध किये जाने वाले अपराधों को गंभीरता से लेने की आवश्यकता है इसीलिए संचालक महोदय द्वारा उक्त प्रकरणों के प्रभावी अनुसंधान एवं अभियोजन की आवश्यकता को समझते हुए 05 राज्य समन्वयकों की नियुक्ति की गई है।


*अवैध गांजा रखने वाले आरोपी को न्यायिक अभिरक्षा के अंतर्गत जेल भेजा गया।*


मनासा। श्री अखिलेश कुमार धाकड़, विशेष न्यायाधीश एन.डी.पी.एस एक्ट, मनासा द्वारा अवैध गांजा रखने वाले आरोपी को न्यायिक अभिरक्षा के अंतर्गत जेल भेजा गया।


सहायक मीडिया सेल प्रभारी एडीपीओ श्री योगेश कुमार तिवारी द्वारा जानकारी देते हुए बताया कि घटना दिनांक 12.07.2020 की शाम 05 से 07 बजे ग्राम रायपुरिया की है। थाना रामपुरा में पदस्थ एसआई शिव रधुवंशी को मुखबीर से सूचना प्राप्त हुई कि आरोपी मिराज रामपुरिया का समशान रोड़ पर स्थित महुऐ के पेड़ के पीछे सफेद रंग की तिरपाल के उपर गांजा बिछाकर सूखा रहा हैं। जिस पर से वह मय फौर्स के घटना स्थल पहुॅचे व आरोपी के कब्जे में रखे गांजे की जांच व तौल करने पर 12.36 किलोग्राम मादक पदार्थ गांजा होना पाया गया। जिस पर गांजा जप्त कर व आरोपी को गिरफ्तार कर उसके विरूद्ध थाना रामपुरा में अपराध क्रमांक 93/2020 धारा 8/20 एनडीपीएस एक्ट में पंजीबद्ध किया गया। आरोपी मिराज को मनासा न्यायालय के समक्ष पेश किया, जहाँ पुलिस थाना रामपुरा द्वारा आरोपी का जे0आर0 आवेदन प्रस्तुत किया गया।


*श्री अखिलेश कुमार धाकड़, विशेष न्यायाधीश एन.डी.पी.एस एक्ट, मनासा* द्वारा आरोपी मिराज पिता नबीनूर, उम्र-35 वर्ष, निवासी-ग्राम-रायपुरिया, थाना-रामपुरा, जिला-नीमच द्वारा न्यायिक अभिरक्षा स्वीकृत कर जेल भेजा।


Popular posts
महाकाल मंदिर परिसर में 9 दरवाजे रहेंगे, बेगम बाग के नाले पर बने मकान 15 मार्च से हटेंगे, आधा अपंगआश्रम मार्ग चौड़ीकरण कि जद में आएगा, महाकाल मंदिर चौराहा मार्ग 24 मीटर चौड़ा होगा, 128 करोड़ का मुआवजा मार्ग चौड़ीकरण में प्रभावितों को दिया जाएगा
Image
डराने लगा है कोरोना, महिला जज, प्रोफेसर पति पत्नी,, कॉलेज के प्राचार्य सहित 19 पॉजिटिव,
Image
कोरोना फिर निकला नगर भ्रमण पर पॉजिटिव आने वालों में बिल्डर ,अधिवक्ता शिक्षक ,इंजीनियर और छात्रा शामिल
Image
देश के 50 धार्मिक स्थलों में से महाकाल मंदिर भी अब बनेगा चाईल्ड फ्रेंडली, राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग नईदिल्ली द्वारा चयनित
Image
उज्जैन लोकायुक्त ने बिल्डर सहित नगर निगम के चार अधिकारियों पर FIR दर्ज की
Image