मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है जहां प्रत्येक जिले में वन विभाग के प्रकरणों में पैरवी के लिए जिले स्तर पर एक-एक अभियोजन अधिकारी नियुक्त किए

वन्य प्राणियों के हत्यारों को सजा दिलाने हेतु एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला


गुना सेंट्रल अकादमी फॉर पुलिस ट्रेनिंग भारत सरकार के तत्वाधान में वन्यजीव अपराध एवं वैज्ञानिक साक्ष्य विषय वेबीनार का आयोजन डीजी अभियोजन पुरुषोत्तम शर्मा के मुख्य आतिथ्य में किया गया साइबर व नवीन तकनीकी पर आयोजित एक दिवस प्रशिक्षण में अभियोजन और वन विभाग के अधिकारियों ने भाग लिया।


  श्री शर्मा ने दुर्लभ और विलुप्त प्राणियों के आपराधिक प्रकरणों को शासन स्तर पर चिन्हित कराकर माननीय उच्च न्यायालय को प्रकरणों के शीघ्र निराकरण हेतु प्रस्ताव भेजे जाने की बात कही एवं प्रत्येक जिले में अपराधों की पैरवी हेतु एक-एक अभियोजन अधिकारी को अधिकृत किया है जिससे वन अपराध के प्रकरणों में निश्चित रूप से सजा बढ़ोतरी होगी।  मीडिया सेल प्रभारी निर्मल अग्रवाल ने बताया कि हैं मध्य प्रदेश की राज्य समन्वयक सुधा विजय सिंह भदौरिया ने वन्यजीव अपराध की जांच और न्यायालयीन प्रक्रिया के बारे में मौजूद अधिकारियों को विस्तार से बताया। जिला गुना से राजेश सिंह आर्य अभियोजन अधिकारी उपस्थित रहे।


Popular posts
जिस रेल लाइन को कांग्रेस सरकार में 1975 में उखाड़ फेंका अब भाजपा सरकार ने वहां नई रेल लाइन का काम शुरू किया
Image
जो कभी सिंधिया घराने का महल था अब उज्जैन में वहा हेरिटेज होटल बनाने की योजना है।
Image
1 किलो वजन कम करने पर मिलेंगे 1000 करोड़ रुपए,,,,, जानिए क्या है पूरा मामला
Image
इन्दौर के चिकित्सकों का दल सेवाधाम की हवा और दीवारों की जांचकर ढूंढेगा मौत के कारण*
Image
कलेक्टर ने बैठक में निर्देश दिये कार्यक्रमों का मिनिट टू मिनिट कार्यक्रम तैयार किया जाये,,,,,,,29 मई को राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद का उज्जैन दौरा प्रस्तावित, अ.भा.आयुर्वेद महासम्मेलन व स्व-सहायता समूह के सम्मेलन में भाग लेंगे
Image