पेट्रोल डालकर आग लगाकर हत्या करने वाले अभियुक्त का जमानत आवेदन निरस्त

 


उज्जैन।विशेेष न्यायाधीश (पॉक्सो एक्ट) डॉ0 (श्रीमती) आरती शुक्ला पाण्डेय, अपर सत्र न्यायाधीश महोदय उज्जैन, के न्यायालय द्वारा अभियुक्त शुभम उर्फ इल्ली पिता अशोक, निवासी फ्रीगंज उज्जैन का जमानत आवेदन निरस्त किया गया। 


 उप-संचालक (अभियोजन) डॉ साकेत व्यास ने अभियोजन घटना अनुसार बताया कि घटना इस प्रकार है, कि दिनांक 23.02.2020 को फरियादी गणेश पिता कमलेश ने पुलिस को रिपोर्ट दर्ज कराई कि दिनंाक 22.02.2020 को सुबह करीबन 10ः00 बजे नानाखेडा स्थित भंाग घोटा की दुकान पर भांग पीने आया था। उसने भांग घोटा की दुकान पर से 10 रूपये की भांग पीकर वहॉ से चला गया था, मैं ओम कैफे के सामने नानाखेडा बस स्टेण्ड पहुंचा तो मेरी पहचान वाला सूरज व शुभम मिले जिन्होने पाउच खाने के लिये मेरे से पैसे मांगे तो मेने कहा कि मेरे पास पैसे नही है। इसी बात को लेकर दोनो ने मुझे मॉ-बहन की नंगी-नंगी गालिया देने लगे, मैने गालिया देने से मना किया तो अभिुक्त सूरज यादव जान से मारने की नियत से हाथ मे रखी पेट्रोल की बोतल मेरे उपर डाल दी और एक अन्य अभियुक्त शुभम ने उसे आग लगा दी। मैं चिल्लाकर भागा और आग बुझाई तो सूरज और शुभम ने उसे फिर से पकडा और उससे बोले तुझे अस्पताल लेकर चलते हैं। अभियुक्तगण फरियादी से बोले कि किसी को कुछ नही बताना नही तो तुझे जान से खत्म कर देगे। अभियुक्तगण उसे सी.एच. अस्पताल में भर्ती कराया। 


 फरियादी की रिपोर्ट पर थाना नानाखेडा पर प्रथम सूचना रिपोर्ट लेखबद्ध की गई। पुलिस अनुसंधान के दौरान फरियादी गणेश की उपचार के दौरान मृत्यु हो गई। 


 अभियुक्त द्वारा न्यायालय में जमानत आवेदन प्रस्तुत किया गया था, अभियोजन अधिकारी द्वारा जमानत का विरोध किया। न्यायालय द्वारा अभियोजन के तर्कों से सहमत होकर अभियुक्त का जमानत आवेदन निरस्त कर उन्हें जेल भेजा गया।    प्रकरण में शासन की ओर से पैरवी श्री प्रमोद चौबे, लोक अभियोजक जिला उज्जैन द्वारा की गई।              


                          


Popular posts
122 साल पुराने उज्जैन के नक्शे को आधार बनाकर,,, तालाबों की जमीन हड़पने वालों पर शिकंजा कसेगा,,, उज्जैन जिलाधीश के निर्देश से जमीन पर कब्जा करने वालों में हड़कंप मचा
Image
उज्जैन कलेक्टर के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि,,,130 करोड़ रुपये कीमत की 3 हेक्टेयर जमीन शासकीय हुई,,,,पूर्णिमा सिंघी, प्रमोद चौबे और श्री राम हंस यह है तीन आधार स्तंभ जिनकी मेहनत और सच्चाई रंग लाई
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
उज्जैन के विश्वप्रसिद्ध महाकाल मंदिर परिसर में बिना अनुमति के युवती द्वारा वीडियो बनाकर वायरल किए जाने पर प्रकरण पंजीबद्ध
Image