राजगढ अभियोजन द्वारा 108 वृक्षों का रोपण, डीआईजी भोपाल की उपस्थिति में सम्पन्न वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम

 *अभियोजन अभिनव पथ पर अग्रसर*


   राजगढ। मध्यप्रदेश अभियोजन पर्यावरण संरक्षण पर अब एक अभिनव भूमिका निभा रहा है। इस नवीन परिवर्तन के अग्रदूत बने है मध्यप्रदेश के अभियोजन के संचालक / पुलिस महानिदेशक माननीय पुरूषोत्तम शर्मा । श्री शर्मा ने प्रदेश के समस्त अभियोजन अधिकारियों को पर्यावरण के संरक्षण के लिए और समाज में अपनी भूमिका को और सकारात्मक बनाने के लिए सावन माह में वृक्षारोपण करने हेतु निर्देशित किया है। जिसके अनुक्रम में आज सम्पूर्ण पुलिस परेड ग्राउंड राजगढ में 108 वृक्षों का रोपण किया गया है।    वृक्षारोपण कार्यक्रम पुलिस उप महानिरीक्षक श्री संजय तिवारी, भोपाल देहात रेंज भोपाल के मुख्य आतिथ्य में सम्पन्न हुआ एवं इस कार्यक्रम में जिला पुलिस अधीक्षक श्री प्रदीप शर्मा, जिला अभियोजन अधिकारी श्री आलोक श्रीवास्तव, एडीपीओ श्री राजेश शाक्य, श्री विक्रम चैहान, श्रीमति स्वर्णलता यादव आदि अभियोजन अधिकारीगण एवं पीसीडी श्री मुकेश बैरागी, सहायक ग्रेड- 3 श्री रूपेश विश्वकर्मा, श्री अंकित शुक्ला एपीसीडी श्री नीरज कुर्मी, पुलिस बल के अधिकारी कर्मचारीगण एवं न्यायालय में पदस्थ समस्त कोर्ट मोहर्रिरगण की उपस्थिति रही। 


फलदार, औषधीय एवं धार्मिक पौधों का हुआ रोपणः-


      जिला अभियोजन अधिकारी राजगढ श्री आलोक श्रीवास्तव के नेतृत्व में वृक्षारोपण का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ । श्री श्रीवास्तव ने जानकारी दी है कि वृक्षारोपण के तहत परेड ग्राउंड में 108 वृक्षों का रोपण किया गया जिसमें फलदार वृक्ष जैसे अमरूद, जामुन आदि, धार्मिक-आध्यात्मिक वृक्ष जैसे- कदम्ब, बिल्ववृक्ष आदि, छायादार वृक्ष जैसे- बरगद, पीपल आदि तथा गुलमोहर आदि पेड़ लगाये गये है। 


   वृक्षारोपण कार्यक्रम के उपरांत लगाये गये सभी पौधों के संरक्षण हेतु सभी अभियोजन अधिकारी एवं कर्मचारीगणों ने शपथ भी ली है। 


 पौधों के सरंक्षण हेतु विधिवत देखरेख एवं समय-समय पर पानी डालने हेतु भी समुचित व्यवस्थाएं की गई है। अभियोजन के इस पुनीत कार्यक्रम में थाना प्रभारी कालीपीठ श्री जितेन्द्र सिंह चैहान ने भी पर्याप्त सहयोग प्रदान किया          *पर्यावरण संरक्षण की ली शपथः-* मैं शपथ लेता हॅू कि, पर्यावरण संरक्षण के लिए यथासामथ्र्य प्रयास करूंगा। दैनिक क्रियाकलापों में पर्यावरण के अहितकर दिनचर्या का परित्याग कर अधिकाधिक वृक्षारोपण करते हुए अन्य लोगों को भी पर्यावरण संरक्षण एवं वृक्षारोपण के लिए प्रोत्साहित करूंगा।   


वृक्षों को नष्ट होने से बचाने के लिए कागज का उपयोग कम कर कागज रहित कार्य संस्कृति अपनाऊॅंगा तथा वातावरण को स्वच्छ एवं प्रदूषण मुक्त बनाने हेतु हर संभव प्रयास करूंगा