मूक बधिर बालिका के साथ यौन शोषण करने वाला आरोपी गया जेल घर में घुसकर मूक बधिर लडकी के साथ किया था बलात्‍कार

  • भोपाल


 मूक बधिर बालिका के साथ यौन शोषण करने वाले आरोपी गजराज सिंह उम्र 35 वर्ष निवासी ग्राम हिनोतिया को थाना बैरसिया द्वारा गिरफतार कर माननीय न्‍यायालय श्रीमती श्‍वेता तिवारी जे.एम.एफ.सी. के न्‍यायलाय में पेश किया गया । उपस्थित अभियोजन अधिकारी श्री सुनील गौतम ने बताया कि एक मूक बधिर व्‍यक्ति स्‍वंय में ही पीडित होता है और ऐसे व्‍यक्ति के साथ आरोपी के द्वारा घर में घुसकर उसकी लज्‍जा भंग की गयी है। ऐसे आरोपी न केवल एक अपराधी होते है बल्कि वह समाज में एक कलंक के रूप में होते है ऐसे आरोपी के साथ न्‍यायालय द्वारा सहानुभूति नही दिखाई जा सकती । केस डायरी के अवलोकन एवं अभियोजन के तर्को से सहमत होते हुए माननीय न्‍यायालय द्वारा आरोपी गजराज सिंह को न्‍यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया ।


 


मीडिया सेल प्रभारी मनोज त्रिपाठी द्वारा बताया गया कि पीडिता की मां ने थाने बैरसिया उपस्थित होकर रिपोर्ट लेख करायी कि दिनांक 08.08.2020 शाम के समय वह अपने पति एवं बच्‍चो के साथ खेत पर काम कर रही थी मेरी लडकी बच्‍चो के साथ खेत के पास बने घर में खेल रही थी। कुछ देर बच्‍चे चारा लेने के लिये मेरे पास आये और मेरी लडकी (पीडिता) खेत की मेढ पर बैठी थी कुछ देर बाद देखा तो वह वहां नही थी। मैंने एक बच्‍ची अंजली से पूछा कि मेरी लकडकी कहां है तो उसने कहां कि घर होगी । तब मैं घर के अन्‍दर गई और अपनी लडकी को घर के बाहर लायी तभी मैंने देखा मेरे ही गांव का रहना वाला गजराज सिंह जाटव पिता मिश्रीलाल जाटव ग्राम हिनोतिया, जो मेरे घर में ही छिपा था मुझे देखकर वहां से भाग गया , जब मैनें अपनी लडकी की हालत देखी तो उसकी लेगी गिली थी । गजराज सिंह ने मेरी लडकी के साथ गलत काम किया है उक्‍त सूचना के आधार पर थाना बैरसिया द्वारा अपराध क्रमांक 447/20 अन्‍तर्गत धारा 376 भादवि के तहत प्रकरण दर्ज कर विवेचना में लेकर आरोपी को गिरफतार कर न्‍यायालय में पेश किया है।


 


 


Popular posts
122 साल पुराने उज्जैन के नक्शे को आधार बनाकर,,, तालाबों की जमीन हड़पने वालों पर शिकंजा कसेगा,,, उज्जैन जिलाधीश के निर्देश से जमीन पर कब्जा करने वालों में हड़कंप मचा
Image
उज्जैन कलेक्टर के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि,,,130 करोड़ रुपये कीमत की 3 हेक्टेयर जमीन शासकीय हुई,,,,पूर्णिमा सिंघी, प्रमोद चौबे और श्री राम हंस यह है तीन आधार स्तंभ जिनकी मेहनत और सच्चाई रंग लाई
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
उज्जैन के विश्वप्रसिद्ध महाकाल मंदिर परिसर में बिना अनुमति के युवती द्वारा वीडियो बनाकर वायरल किए जाने पर प्रकरण पंजीबद्ध
Image