रिटायर्ड डिप्टी कलेक्टर, और 2 साल की मासूम सहित 21 पॉजिटिव आए, दो पॉजिटिव आगर जिले के,,,, तेजनकर और पुष्पा मिशन में पहुंचा कोरोनावायरस

उज्जैन। कोरोना पॉजिटिव आने वालों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है आज फिर 23 पॉजीटिव रिपोर्ट आई है इनमें से दो रिपीट पॉजिटिव है जबकि 25 रिपोर्ट आगर जिले की है, उज्जैन जिले में आज 19 पॉजिटिव आए हैं इनमें से सिर्फ चार एसिंप्टोमेटिक है जबकि 15 सिंप्टोमेटिक मरीज है, आज पॉजिटिव आने वालों में महिदपुर की 2 साल की मासूम बालिका भी शामिल है, इसके अतिरिक्त आज भी बड़ी संख्या में युवा वर्ग चपेट में आया है, पॉजिटिव आने वालों में व्यापारी हेल्थ वर्कर शासकीय सेवक शिक्षक और प्राइवेट कंपनी मैं काम करने वाले शामिल है, ऋषि नगर निवासी 65 वर्षीय रिटायर्ड डिप्टी कलेक्टर भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं, सैलाना में एसडीएम पद से रिटायर्ड होने वाले 65 वर्षीय पुरुष फिलहाल ऋषि नगर में रहते हैं। आज पॉजिटिव आने वालों ने किशन विहार कानूनी में रहने वाले 65 वर्षीय पुरुष और शंकर निवास देवास रोड पर रहने वाले 47 वर्षीय पुरुष पुष्पा मिशन अस्पताल में भर्ती है जबकि जिला आगर से पॉजिटिव आने वालों मैं से एक आरडी गर्दी मेडिकल कॉलेज और एक तेजनकर अस्पताल में भर्ती है, स्पष्ट है कि शहर के प्राइवेट अस्पतालों में भी अब कोरोना तेजी से मरीजों के जरिए पहुंच रहा है पिछले 7 दिनों का रिकॉर्ड देखे तो शहर के लगभग 10 से अधिक प्राइवेट अस्पतालों मे कोरोना पॉजिटिव मरीज इलाज करवाने पहुंचे हैं, हालांकि रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें प्राइवेट अस्पतालों से कोविड-19 के लिए चिन्हित अस्पतालों में भर्ती कर दिया जाता है, लेकिन भर्ती करने के पहले तक ऐसे मरीजों का प्राइवेट अस्पतालों में इलाज होना खतरे की घंटी है, फ्रीगंज स्थित प्रसिद्ध मिष्ठान की दुकान को लेकर आज भी शहर में चर्चा रही, लोगों का कहना है कि रसूखदार लोग अपने हिसाब से कोरोना का इलाज करवाने के लिए स्वतंत्र है लेकिन आम आदमी को अनेक नियम बताए जाते हैं, मिष्ठान व्यापारी का घर कंटेनमेंट कर दिया गया लेकिन दुकान अभी भी खुली रहने के कारण नागरिकों में तीखी प्रतिक्रिया थी।


Popular posts
122 साल पुराने उज्जैन के नक्शे को आधार बनाकर,,, तालाबों की जमीन हड़पने वालों पर शिकंजा कसेगा,,, उज्जैन जिलाधीश के निर्देश से जमीन पर कब्जा करने वालों में हड़कंप मचा
Image
उज्जैन कलेक्टर के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि,,,130 करोड़ रुपये कीमत की 3 हेक्टेयर जमीन शासकीय हुई,,,,पूर्णिमा सिंघी, प्रमोद चौबे और श्री राम हंस यह है तीन आधार स्तंभ जिनकी मेहनत और सच्चाई रंग लाई
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
उज्जैन के विश्वप्रसिद्ध महाकाल मंदिर परिसर में बिना अनुमति के युवती द्वारा वीडियो बनाकर वायरल किए जाने पर प्रकरण पंजीबद्ध
Image