बलात्कारी की जमानत निरस्त - जेल में ही रहेगा,,,,,,हार जीत का दाव लगाने वाले आरोपी को सजा*

[05/09, 3:12 pm] Rajgarh Coart: कार्यालय जिला लोक अभियोजन अधिकारी, राजगढ म0प्र0      


             


// प्रेस नोट 1:- 5 सितम्बर 2020/


हार जीत का दाव लगाने वाले आरोपी को सजा


           सारंगपुर । न्यायालय न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी सारंगपुर जिला राजगढ की अदालत ने जितेन्द्र पिता वत्तुलाल गवली निवासी मेवाती मोहल्ला तलेन को थाना तलेन के अपराध क्रमांक 228/20 धारा 4क सट्टा अधिनियम में दोषी पाते हुए न्यायालय उठने तक की सजा एवं कुल 1000 रूपये जुर्माने से दण्डित किया है। इस प्रकरण में शासन की ओर से पैरवी एडीपीओ सारंगपुर श्री विक्रम चैहान ने की है


मीडिया प्रभारी श्री आशीष दुबे ने प्रकरण की जानकारी देते हुये बताया है कि थाना तलेन के सउनि को भ्रमण के दौरान मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि एक व्यक्ति बस स्टैण्ड पर यात्री प्रतीक्षालय के पास रूपयों की हार-जीत का दाव लगाकर सट्टा अंक पर्ची लिख रहा है। जब पुलिस मुखविर द्वारा बताये गये स्थान पर पहुंची तोे एक व्यक्ति बस स्टैण्ड पर यात्री प्रतीक्षालय के पास मे सट्टा अंक पर्ची से रूपया पैसो से हार जीत का दाब लगाकर सट्टा लगाते दिखा। अभियुक्त को पकड़कर वैध कागजात मांगे तो न होना बताया था। नाम पता पूछा तो अपना नाम जितेन्द्र पिता वत्तुलाल गवली निवासी मेवाती मोहल्ला तलेन का होना बताया। आरोपी का कृत्य धारा 4क एक्ट का दण्डनीय पाया जाने से थाना लाया गया था जिसके उपरांत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया था।              


बलात्कारी की जमानत निरस्त - जेल में ही रहेगा


ब्यावरा । माननीय अपर सत्र न्यायालय ब्यावरा की अदालत ने थाना देहात ब्यावरा के प्रकरण में नाबालिग बालिका से दुष्कर्म करने वाले अभियुक्त बंटी गुर्जर निवासी ग्राम बाईहेड़ा की जमानत अर्जी खारिज कर दी है। इस प्रकरण में शासन की ओर से पैरवी एडीपीओ श्री आलोक उपाध्याय ब्यावरा ने की है ,मीडिया प्रभारी श्री आशीष दुबे ने घटना की जानकारी देते हुए बताया है कि फरियादी ने दिनांक 22.04.2020 को थाना देहात ब्यावरा में प्रथम सूचना रिपोर्ट लेखबद्ध कराई कि रात्रि के समय जब वह और उसके परिवार के सदस्य घर में सो रहे थे उसकी लड़की घर से निकल गई तो फरियादी जग गई। फरियादी को तलाश किया व गावं पर कुएं के पास बने ओटले में जाकर देखा तो अभियोक्त्री व आरोपी बंटी दिखे । आरोपी बंटी फरियादी को देखकर भाग गया था। फरियादी की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 118/20 धारा 376 भादवि, 3/4 पाॅक्सो एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना प्रारंभ की गई थी।