दुकान से मोबाईल चोरी करने वाले आरोपी की जमानत निरस्त

 


रीवा।


  थाना पनवार के अप0क्र0 105/19, भादवि0 की धारा 379 के अंतर्गत दुकान से मोबाइल फोन चोरी वाले आरोपी अमित द्विवेदी पिता श्यामाकान्त द्विवेदी, उम्र 23 वर्ष, निवासी जोडावरपुर थाना पनवार जिला रीवा म0प्र0 का माननीय न्यायालय-़ जेएमएफसी, त्योंथर जिला रीवा द्वारा जमानत आवेदन निरस्त कर जेल भेजा गया। 


मीडिया प्रभारी मो0 अफजल खान, एडीपीओ रीवा द्वारा बताया गया कि दिनांक 18.07.2020 को फरियादी अपनी दुकान का सामान लेने कल्याणपुर गया था और दुकान में उसका छोटा लड़का था जो गूंगा था और इसारे से बताने पर सामान देता था और पैसा ले लेता था। फरियादी करीब 05 बजे शाम को वापस आया तो उसके लड़के ने इसारे से बताया कि करीब 04 बजे अमित द्विवेदी एवं आशीष द्विवेदी दुकान पर पारलेजी बिस्कुट लेने आये थे उन्होने 100रू0 का नोट दिया था, फरियादी का लड़का दुकान के अन्दर खुल्ला पैसा लेने गया था तभी आरोपी अमित द्विवेदी ने दराज में रखा मोबाईल एवं करीब 3000/- नगदी रू0 चुराकर ले गया। उक्त घटना की रिपोर्ट फरियादी ने थाना पनवार में लेख कराई। पुलिस ने विवेचना उपरांत अभियोग पत्र एवं आरोपी को न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया। 


  मामले में आरोपी के अधिवक्ता ने जमानत आवेदन माननीय न्यायालय में प्रस्तुत कर यह तर्क दिया कि आरोपी निर्दोष है उसे झूठा फसाया गया है अतः उसे जमानत पर रिहा किया जाए। शासन की ओर से सहायक जिला अभियोजन अधिकारी श्री धीरज सिंह, तहसील-त्योंथर द्वारा अपने तर्क प्रस्तुत किये गये और जमानत आवेदन का विरोध करते हुए कहा कि वर्तमान में चोरी की घटनाए लगातार बढ़ रही है यदि आरोपी को जमानत का लाभ दिया गया तो वह और भी अपराध को अंजाम दे सकता हैं। तर्को से सहमत होते हुए माननीय न्यायालय द्वारा आरोपी का जमानत आवेदन निरस्त कर जेल भेजा गया।


 


 


Popular posts
डराने लगा है कोरोना, महिला जज, प्रोफेसर पति पत्नी,, कॉलेज के प्राचार्य सहित 19 पॉजिटिव,
Image
कोरोना के मरीजों की संख्या में आश्चर्यजनक वृद्धि होने से एक और जहां शहर में दहशत , वहीं दूसरी ओर प्रशासन की कार्यप्रणाली भी संदेह के घेरे में है
Image
लोकायुक्त टीम के 3 अधिकारी और 30 सदस्यों की टीम ने तीन स्थानों पर की कार्रवाई
Image
महाशिवरात्रि पर ऑनलाइन , एप अथवा टोल फ्री नंबर पर प्री बुकिंग करवाई जा सकेगी,,,,प्री बुकिंग 5 मार्च से खुलेगी
Image
बरकतउल्ला विवि कार्य परिषद का निर्णय : संविदा पद से डॉ आशा शुक्ला सेवानिवृत्त कुलपति पद पर नियुक्ति मामले में राजभवन को किसने धोखे में रखा
Image