मौत के बाद कोरोना पॉजिटिव ने परिवार को आफत में डाला,,

कोरोना पॉजिटिव मरीज का शव अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को देना भारी पड़ा,, प्राप्त जानकारी के मुताबिक उज्जैन जिले के नागदा तहसील के मेडिकल व्यापारी को कोरोना होने के बाद इंदौर के एक निजी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती किया गया था, 25 दिन इलाज चलने के बाद व्यापारी की मौत हो गई, मौत के बाद प्रोटोकॉल का पालन न करते हुए अस्पताल प्रबंधन ने शव परिजनों को सौंप दिया ,परिजनों ने उनका अंतिम संस्कार नागदा में कर दिया, इसके बाद पिछले 10,,, 12 दिनों में मृतक के तीन भाई, पत्नी, बहने, और बच्चे सहित परिवार के 14 लोग संक्रमित हो गए पूरे मामले की शिकायत इंदौर कलेक्टर को दी गई है।