एक दिन में 20 से ज्यादा परिवारों के 2 से लगाकर 5 सदस्य पॉजिटिव आए,,, मुख्य वजह सामने आए,,,, सिटी स्कैन से लेकर सभी जांचें परिवार के सदस्यों को ही करवाना पड़ती है जिसकी वजह से पॉजिटिव मरीज घर से बाहर निकल रहे हैं

 


उज्जैन ।पहली लहर में कोरोना, परिवार के एक सदस्य या अधिक से अधिक 2 सदस्यों को अपना निशाना बना रहा था, लेकिन दूसरी लहर में अब कोरोना परिवार के अधिकांश सदस्यों को संक्रमित कर रहा है यदि इसकी वजह तक नहीं पहुंचा गया तो, आने वाले दिनों में स्थिति और विकराल हो सकती है।

 28 अप्रैल को शहर में कोरोना से 1,,,2 या तीन नहीं बल्कि 20 से अधिक परिवार चपेट में आए हैं ,सबसे पहले बात करते हैं साईं नाथ कॉलोनी में रहने वाले एक परिवार की ,,,परिवार के एक सदस्य पुणे से आकर work from home कर रहे हैं, बात करने पर उन्होंने बताया कि पिछले 1 महीने से घर से बाहर आवश्यक कार्य होने पर ही निकले बावजूद इसके घर के सबसे बुजुर्ग 82 वर्षीय सदस्य पॉजिटिव आ गए, उनके साथ उनकी 75 वर्षीय पत्नी, 40 वर्षीय पुत्र,  36 वर्षीय पुत्र वधू और9 वर्ष की पोती सभी पॉजिटिव आ गए। एक ही परिवार में 5 सदस्य पॉजिटिव आने के बाद आस पड़ोस में हड़कंप मच गया। इसके अलावा त्रिवेणी विहार कॉलोनी में एक ही परिवार की तीन महिलाएं जिनकी उम्र क्रमशः 38 ,13 और 8 है ,पॉजिटिव आ गई। पॉजिटिव आने वालों में रवि शंकर नगर की में रहने वाले हैं पति पत्नी और उनकी बेटी, दशहरा मैदान में रहने वाले बुजुर्ग दंपत्ति और उनका बेटा कंठल पर रहने वाले एक ही परिवार के 3 , सदस्य शास्त्री नगर में रहने वाली एक महिला और उसके दो पुत्र,  वेद नगर में रहने वाले पिता-पुत्र , सेठी नगर में रहने वाले भाई बहन,  लालबाई फूलबाई मार्ग पर और ऋषि नगर में रहने वाले पति पत्नी , रतन एवेन्यू में रहने वाले पिता-पुत्र,  दौलतगंज और खारा कुआं में रहने वाले पिता-पुत्र, अलख धाम और मणिनगर में रहने वाले पिता और बेटी, आजाद नगर में रहने वाली बुजुर्ग दंपत्ति ,नीरा हवेली में रहने वाली महिला और उसकी बेटी, सुभाष नगर में रहने वाले पति पत्नी और उनकी बेटी,  कमला नेहरू मार्ग पर रहने वाली एक ही परिवार के दो महिलाएं,  मंगल सिटी में रहने वाले पति पत्नी और लक्ष्मी नगर में रहने वाले पिता, पुत्री पॉजिटिव आए। परिवार के अनेक सदस्यों के पॉजिटिव आने के बाद इस दिशा में कार्य किया जाना चाहिए कि एक ही परिवार के एक से अनेक सदस्य क्यों पॉजिटिव आ रहे हैं। दैनिक मालव क्रांति ने इस संबंध में अनेक संक्रमित परिवारों से चर्चा की तो उन्होंने बताया कि परिवार के एक सदस्य के पॉजिटिव होने के बाद सिटी स्कैन से लेकर बाजार से दवाइयों का लाना और अन्य कई तरह की जांच परिवार के सदस्यों को ही करवाना पड़ती है, जिसकी वजह से परिवार के अन्य सदस्य भी घर से बाहर जा रहे हैं ,शायद यही वजह है कि परिवार के परिवार पॉजिटिव आ रहे हैं।

Popular posts
ओ माय गॉड,,,, महाकाल में नौकरी और करतूत इतनी गंदी,,,,,,
Image
अमलतास हॉस्पिटल में पत्रकार सम्मान व कॉकलियर इम्प्लांट ऑपरेशन किया गया।
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
122 साल पुराने उज्जैन के नक्शे को आधार बनाकर,,, तालाबों की जमीन हड़पने वालों पर शिकंजा कसेगा,,, उज्जैन जिलाधीश के निर्देश से जमीन पर कब्जा करने वालों में हड़कंप मचा
Image
उज्जैन कलेक्टर के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि,,,130 करोड़ रुपये कीमत की 3 हेक्टेयर जमीन शासकीय हुई,,,,पूर्णिमा सिंघी, प्रमोद चौबे और श्री राम हंस यह है तीन आधार स्तंभ जिनकी मेहनत और सच्चाई रंग लाई
Image