वीडियो में देखिए आग लगने के बाद ,,,किस हाल में पहुंचा पाटीदार अस्पताल

 उज्जैन। जीरोपाइंट ब्रिज के पास स्थित पाटीदार हास्पिटल की दूसरी मंजिल स्थित प्रायवेट वार्ड में अज्ञात कारणों के चलते भीषण आग लग गई। अस्पताल में लगी आज के बाद विद्युत कनेक्शन विच्छेद कर दिया गया है इधर  बताया जाता है कि आईसीयू पूरी तरह जलकर खाक हो गया है।आग की लपटें और धुआं इतना  भयावह था कि अस्पताल में भर्ती मरीज और उनके परिजनों में अफरा तफरी फैल गई। लोग जान बचाने के लिये यहां वहां भागने लगे। इस अस्पताल में कोविड-19 पीड़ित मरीज भी बड़ी संख्या में भर्ती है, सूत्रों के मुताबिक दौरान आधा दर्जन से अधिक मरीजों के झुलसने और घायल होने की सूचना है लेकिन अभी कोई अधिकृत जानकारी नहीं मिल पाई की इस भयानक आग के दौरान क्या किसी मरीज की हालत खराब हुई है। इधर सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड की एक दर्जन दमकलें आग पर काबू पाने के प्रयास में लगी, जबकि झुलसे मरीजों को पास ही स्थित दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किया गया। मरीजों को गुरु नानक अस्पताल और आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज में शिफ्ट करने की सूचनाएं है।



आग आज सुबह लगी भर्ती मरीजों के परिजनों के मुताबिक सुबह 11.30 बजे बाद प्रायवेट वार्ड से धुआं निकलते  देखा, जिसकी सूचना तत्काल अस्पताल प्रबंधन को दी गई। अस्पताल स्टाफ ने तुरंत फायर ब्रिगेड को इसकी सूचना दी, लेकिन तब तक आग ने विकराल रूप धारण कर लिया था ,जिससे अस्पताल में भर्ती मरीजों और उनके परिजनों में अफरा तफरी फैल गई। कुछ लोग दूसरी मंजिल से भागकर नीचे की ओर आये तो कुछ लोग घबराहट में दूसरी मंजिल से तीसरी मंजिल की ओर भागे और वहां से पास की बिल्डिंग पर छलांग लगा दी। आग लगने की सूचना मिलने के बाद एक के पीछे एक दर्जन भर फायर ब्रिगेड की दमकलें पहुंची। फायर ब्रिगेड कर्मियों ने आग बुझाने के प्रयास शुरू किये लेकिन तब तक आग की लपटें चौथी मंजिल तक पहुंच चुकी थी। अस्पताल में लगी आग का वीडियो वहां मौजूद लोगों ने बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दिया जिससे पल भर में ही पूरे शहर में पाटीदार अस्पताल की आग की चर्चा होने लगी।

पाटीदार अस्पताल में भर्ती मरीज और उनके परिजन जान बचाने के चक्कर में झुलसने लगे तो कोई गिरकर घायल हुआ। करीब आधा दर्जन से अधिक झुलसे लोगों को पास के गुरूनानक अस्पताल में भर्ती किया गया जबकि अन्य मरीजों को शासकीय अस्पतालों की एम्बुलेंस से दूसरे अस्पतालों में शिफ्ट किया जा रहा है।कुछ मरीजों को आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज में शिफ्ट करने की सूचना भी है।

बताया जाता है कि पाटीदार अस्पताल में करीब 20





कोरोना पाजिटिव मरीज भर्ती थे जो आग लगने के बाद यहां वहां भाग गये। सीएमएचओ डॉ. महावीर खंडेलवाल सरकारी अस्पताल के डॉक्टरों की टीम के साथ मौके पर पहुंचे साथ ही नगर निगम, जिला प्रशासन, पुलिस के अधिकारी भी मौके पर मौजूद रहकर मरीजों और उनके परिजनों की सुरक्षा व्यवस्था में जुट गये। मौके पर बड़ी संख्या में मीडिया कर्मी भी पहुंचे पास ही स्थित ओवर ब्रिज से आग लगने के वीडियो में लोगों ने बनाएं आग लगने के कारणों का अभी पता नहीं चला है उल्लेखनीय है कि पाटीदार अस्पताल पिछले लगभग 1 वर्षों से सुर्खियों में है।


Popular posts
कैबिनेट की बैठक में फिर बदला महाकाल कॉरिडोर का नाम,,,,, अब इसे,, महाकाल लोक,,, के नाम से जाना जाएगा, आजादी के बाद पहली बार उज्जैन में हुई प्रदेश सरकार के कैबिनेट की बैठक
Image
ब्रेकिंग,,,,,,,,नयापुरा के जैन परिवार पर आफत का पहाड़ टूटा, सलूजा नर्सिंग होम में भर्ती बहू से परिवार में संक्रमण आने की आशंका जताई
शहर के नौनिहाल आज पर फोकस कर नित नए कीर्तिमन रच रहे हैं, हाल ही में शहर में आयोजित हुई माइंड पॉवर अबेकस की राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में बच्चों ने इतिहास रच दिया
Image
श्री महाकालेश्वर कॉरिडोर का अद्भुत नजारा
Image
उज्जैन में परिवार में फेल रहा है संक्रमण, बड़ी संख्या में पति पत्नी और बाप बेटे संक्रमित,,,, फेसबुक पर जारी की गई एक पोस्ट ने रेंगटे खड़े कर दिए
Image