ब्लैक फंगस का ऑपरेशन कर एक की आंख निकाली गई ,एक अन्य महिला की आंख कल निकाली जाएगी,,,,अब मेडिकल कॉलेज में भर्ती मरीजों की संख्या बढ़कर 52 हुई

 



उज्जैन । कोरोना के बाद अब ब्लैक फंगस जानलेवा सिद्ध हो रहा है, आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज में आज ब्लैक फंगस के कारण जिंदगी और मौत के बीच झूल रहे 60 वर्षीय वृद्ध भाव सिंह निवासी चंदू खेड़ी बड़नगर का ऑपरेशन कर एक आंख निकाल दी गई है, कॉविड 19 नोडल अधिकारी डॉक्टर सुधाकर वैद्य के मुताबिक जिस व्यक्ति की आंख निकाली गई है उसे इंफेक्शन फैल गया था ,उक्त व्यक्ति कोविड-19 पॉजिटिव था बाद में नेगेटिव आ गया था,  ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन पर आरडी गारड़ी मेडिकल कॉलेज में ही भर्ती था, ऑपरेशन डॉक्टर शुभ्रा मेहता ने किया ।उन्होंने बताया कि ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है और अब मेडिकल कॉलेज में 52 मरीज भर्ती है इनमें से 35 का ऑपरेशन किया जा चुका है। उनके मुताबिक एक अन्य महिला मरीज की हालत नाजुक बनी हुई है और संक्रमण का ऑपरेशन करने के बावजूद उसकी आंखों में फेल चुके संक्रमण के कारण उसकी भी आंखें निकालना होगी, इस हेतु मरीज की सहमति मांगी जा रही है ।उन्होंने बताया कि फंगस के इंफेक्शन को कम करने के लिए आवश्यकAmphotericine B Antifungal injection की प्रतिदिन डिमांड भेजी जाती है, आज भी 42 इंजेक्शन मांगे गए हैं जो उपलब्ध होने पर मरीजों को लगाए जाएंगे, उनके मुताबिक कुछ मरीजों की जान खतरे में है।

Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
स्थानकवासी समाज के समाजसेवी सरदारमल राठौर का निधन
नवनियुक्त मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को उज्जैन तथा अन्य जिलों से आए जनप्रतिनिधियों कार्यकर्ताओं और परिचितों ने लालघाटी स्थित वीआईपी विश्रामगृह पहुंचकर बधाई और शुभकामनाएं दी
Image