89 दिन बाद रात में एक भी फोन और मिस कॉल नहीं आया,,, आर आर टीम के नोडल अधिकारी डॉक्टर रौनक एलची ने मालव क्रांति से साझा की यह सुखद जानकारी

 

उज्जैन। कोरोना मरीजों की घटती संख्या को लेकर भले ही असमंजस हो लेकिन अस्पतालों में भर्ती मरीजों की संख्या और आरआर टीम के पास पहुंचने वाले फोन कॉल्स से अंदाजा लगाया जा सकता है कि शहर में कोरोना अब कंट्रोल में है। आरआर टीम के संभाग के नोडल अधिकारी डॉक्टर रौनक एलची ने जानकारी देते हुए बताया कि पिछले 3 मार्च 2021 से दूसरी लहर आने के बाद प्रतिदिन सैकड़ों कॉल रिसीव किए हैं, यहां तक की रात को 4:00 बजे बाद जब तीन 4 घंटे की नींद लेने घर पहुंचे तब भी लगातार कोरोना मरीजों के फोन कॉल्स आते रहे हैं,


लेकिन पहली बार,89 दिन में 30 मई की रात से 31 मई की सुबह तक रात को  एक भी फोन कॉल्स नहीं आया, यहां तक की किसी ने कोरोना को लेकर कोई बात भी नहीं की
, यह सबसे सुखद अवसर था जब रात की तीन-चार घंटे की नींद में से उठने के बाद मोबाइल में कोई मिस कॉल भी नहीं था, निश्चित तौर पर डॉक्टर रौनक एलची का यह सुखद अनुभव इस बात की ओर इशारा कर रहा है कि शहर में और शहर के साथ-साथ जिले और संभाग में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या अब कंट्रोल में है, ऐसा ही रहा तो आने वाले दिनों में संभाग कोरोना मुक्त हो जाएगा।

Popular posts
अग्रवाल समाज का चतुर्थ निःशुल्क अभा युवक युवती परिचय सम्मेलन शनिवार से
Image
कांग्रेस महापौर प्रत्याशी के समर्थन में संजय शुक्ला की महारैली
Image
जेल में नजर आएंगे गुरु नानक अस्पताल के लालची डॉक्टर
Image
कैबिनेट की बैठक में फिर बदला महाकाल कॉरिडोर का नाम,,,,, अब इसे,, महाकाल लोक,,, के नाम से जाना जाएगा, आजादी के बाद पहली बार उज्जैन में हुई प्रदेश सरकार के कैबिनेट की बैठक
Image
प्रतिभा स्वराज प्राइवेट लिमिटेड एवं ओम साईं फरिश्ते फाउंडेशन द्वारा आईटीआई प्रशिक्षित महिलाओं को रोजगार हेतु साक्षात्कार(interview) का आयोजन
Image