ब्लैक फंगस के इंजेक्शन ब्लैक में बेचने वाले व्यापारी का काला सच सामने आएगा,,,, कालाबाजारी के तार यूपी से जुड़ने की संभावना, रिमांड पर लेकर व्यापारी से होगी पूछताछ


ब्लैक फंगस के इंजेक्शन ब्लैक में बेचते हुए मुसद्दीपुरा का दवा  व्यापारी पकड़ाया,,,, 10 दिन पहले ही पत्नी की कॉविड 19 से मौत हुई थी


इन 16 इंजेक्शनो को जब्त किया है



उज्जैन ब्लैक फंगस की बीमारी में संक्रमण फैलने से रोकने वाले इंजेक्शन ओं की कालाबाजारी में दबा बाजार के जिस व्यापारी को पुलिस ने पकड़ा है अब उसका रिमांड लेकर जानकारी हासिल की जाएगी की वह इंजेक्शन कहां से लाया था, कितने इंजेक्शन अब तक ब्लैक किए और अब तक किन-किन लोगों को अपना शिकार बनाया, प्रारंभिक जानकारी में पुलिस के मुताबिक आरोपी इंजेक्शन यूपी से लाने की बात कर रहा है, पुलिस अधीक्षक ने प्रेस वार्ता लेकर पूरे मामले का की जानकारी दी है उनके मुताबिक कालाबाजारी अधिनियम के तहत गिरफ्तार किए गए व्यापारी के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी जिसमें सीधे 6 माह के लिए जेल भेजने का प्रावधान है

 उल्लेखनीय  है की ब्लैकफंगस के इंजेक्शन की काला बाजारी का मामला सामने आया है। उज्जैन के मुसद्दी पुरा स्थित मानव इंटरप्राइजेज पर सीएससी पल्लवी शुक्ला ने ग्राहक बनकर  दबिश दी थी।  16 इंजेक्शन के साथ एक आरोपी को हिरासत में लिया था, पुलिस को जानकारी मिली थी कि ब्लैक फंगस जैसी गंभीर बीमारी में काम आने वाले इंजेक्शन भी कालाबाजारी कर बेचे जा रहे हैं, जानकारी के बाद शुक्ला ने मरीज के परिजन बनकर व्यापारी से बात की और सौदा पटने के बाद मानव इंटरप्राइजेज से संचालक  जुगल किशोर से 16 ब्लैक फंगस के इंजेक्शन जब्त किए। जुगल किशोर 7 हजार का इंजेक्शन 36 हजार मैं  बेच रहा था। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक जिस व्यक्ति को पुलिस ने ब्लैक फंगस के इंजेक्शन की कालाबाजारी करते हुए हिरासत में लिया है उसकी पत्नी की कोटा में 10 दिन पहले ही कॉविड 19  से मौत हुई है।

Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
नवनियुक्त मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को उज्जैन तथा अन्य जिलों से आए जनप्रतिनिधियों कार्यकर्ताओं और परिचितों ने लालघाटी स्थित वीआईपी विश्रामगृह पहुंचकर बधाई और शुभकामनाएं दी
Image