प्रेगनेंट होने के बावजूद वह अपना फर्ज निभाती रही,,,, अब दुनिया में ना सही ,,, लेकिन उनके जज्बे को नहीं भूलेगा देवास

 



ब्लड बैंक की महिला अधिकारी शेख की कोरोना से हुई मौत

मैटरनिटी लीव पर थीं, गर्भावस्था के दौरान हुई पॉजिटिव

देवास। जिला अस्पताल के ब्लड बैंक अधिकारी डॉ. खदीजा शेख पति मो. जिशान सिद्दीकी उम्र 29 वर्ष की शनिवार को उपचार के दौरान इंदौर के भंडारी अस्पताल में मौत हो गई। डॉ. शेख के गर्भवती होने पर उन्होंने अस्पताल से मैटरनिटी अवकाश ले लिया था। 7 माह के गर्भ के दौरान वह कोरोना पॉजिटिव हो गईं, जिन्हें उपचार के लिए इंदौर ले जाया गया था।

ब्लड बैंक अधिकारी बने उन्हें 2 साल ही हुए थे। वे देवास के करीम कृपा वाले जमील शेख की पुत्री थीं, जिनका विवाह एक साल पहले ही हुआ था। परिजनों के अनुसार इंदौर अस्पताल में भर्ती के दौरान डॉक्टरों ने कहा संक्रमण से मां व बेटी दोनों को बचाने के लिए ऑपरेशन करना पड़ेगा, क्योंकि डॉ. शेख को सांस लेने में परेशानी हो रही थी। डॉक्टरों के कहने पर 7 माह में ही ऑपरेशन किया और एक बच्ची का जन्म हुआ। बच्ची को एसएनसीयू में रखा है, जो स्वस्थ्य है। ऑपरेशन के बाद डॉ. शेख एक ही बार होश में आईं थीं, उसके बाद से कोमा में चली गईं। 1 सप्ताह तक कोमा में रहने के बाद शनिवार को उनका निधन हो गया, जिन्हें कोरोना प्रोटोकॉल के तहत इंदौर के खजराना में स्थित कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक किया गया।

ब्लड बैंक में कमी होने पर ग्रुप वालों को लगाती थी फोन

ब्लड बैंक के अनूप डाबी ने बताया, डॉ. शेख का व्यवहार बहुत अच्छा था, जब भी ब्लड बैंक में यूनिट की कमी होती तो वह स्वयं ही ब्लड डोनेट करने वालों को फोन लगाती थीं। कुछ दिन पहले ही उन्होंने जागरूकता के कार्यक्रम में ग्रुप वालों से चर्चा की थी। अचानक उनका चले जाना दुखद घटना है।

नियमानुसार उन्हें लाभ दिलवाया जाएगा

्सीएमएचओ डॉ. एमपी शर्मा ने बताया, जिला अस्पताल के ब्लड बैंक की अधिकारी डॉ. शेख मैटरनिटी अवकाश पर थीं और इस अवस्था में उनका निधन हो गया। उनकी जांच रिपोर्ट अभी हमारे पास नहीं आई, हम नियमानुसार उनके परिवार को कोरोना योद्धा में आने पर योजना का लाभ दिलवाने का प्रयास करेंगे।

मेहनती बेटी को परवर दिगार जन्नत में ऊंचे दर्जे से नवाजे, उनकी मगफिरत करें और घर वालों को सब्रे जमील अता करें। यह दुआ अब देवास के वाशिंदे कर रहे है

Popular posts
122 साल पुराने उज्जैन के नक्शे को आधार बनाकर,,, तालाबों की जमीन हड़पने वालों पर शिकंजा कसेगा,,, उज्जैन जिलाधीश के निर्देश से जमीन पर कब्जा करने वालों में हड़कंप मचा
Image
उज्जैन कलेक्टर के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि,,,130 करोड़ रुपये कीमत की 3 हेक्टेयर जमीन शासकीय हुई,,,,पूर्णिमा सिंघी, प्रमोद चौबे और श्री राम हंस यह है तीन आधार स्तंभ जिनकी मेहनत और सच्चाई रंग लाई
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
उज्जैन के विश्वप्रसिद्ध महाकाल मंदिर परिसर में बिना अनुमति के युवती द्वारा वीडियो बनाकर वायरल किए जाने पर प्रकरण पंजीबद्ध
Image