छतरपुर की बक्स्वाहा तहसील के 5 पंचायत के 17 गांवों के ग्रामीणों ने लिया पर्यावरण संरक्षण का संकल्प

 


दीर्घकालिक विकास परियोजनाओं को समर्थन देने की प्रतिबद्धता भी जताई



बक्स्वाहा (छतरपुर) ५ जून २०२१: विश्व पर्यावरण दिवस 2021 के अवसर पर आज छतरपुर जिले की बक्स्वाहा तहसील के ग्रामीणों ने उनके क्षेत्र में पर्यावरण के संरक्षण से संबंधित और दीर्घकालिक विकास परियोजनाओं को समर्थन देने का संकल्प लिया।


बक्स्वाहा तहसील के ग्रामीण समुदाय द्वारा यह संकल्प लेने से पर्यावरण के संरक्षण के साथ-साथ इस क्षेत्र की सामाजिक और आर्थिक स्थिति के उत्थान की दिशा में भी ठोस कदम उठाए जा सकेंगे। इस तरह तहसील से जुड़े गांवों में विकास को बढ़ावा देने और पर्यावरण को संरक्षण देने के दोनों कार्यों के बीच आवश्यक संतुलन बना पाना संभव हो सकेगा।


छतरपुर की बक्सवाहा तहसील की पांच ग्राम पंचायतों (तेरियामद, बीरमपुरा, मझोरा, गधोई और नीमनी) के ग्रामीण आगे आए हैं और ‘पर्यावरण संदेश’ नामक एक अभियान में शामिल हुए हैं। 


आज पांच सरपंचों ने व लगभग 500-700 ग्रामीणों ने इस के  मुहीम मे भाग लिया इस संकल्प पत्र के माध्यम से  मुहीम मे भाग लिया।  निकट भविष्य में और अधिक ग्रामीणों के इस अभियान से जुड़ने की उम्मीद है। 


इस संकल्प के तहत ग्रामीण पर्यावरण के संरक्षण और संवर्धन के लिए लगातार प्रयास करेंगे, साथ ही वे अपने इलाके के लिए आवश्यक दीर्घकालिक विकास परियोजनाओं को भी बढ़ावा देंगे। 


ग्रामीणों ने सरकार की विकास परियोजनाओं और क्षेत्रीय विकास और औद्योगीकरण की पहल का गर्मजोशी से स्वागत किया है।


जैसे-जैसे भारत सरकार दीर्घकालिक विकास एजेंडा पर आगे बढ़ती है, इस क्षेत्र में विकास संबंधी रणनीतियों को लागू करने के लिए महत्वपूर्ण अवसर मिलेंगे, जो सबको साथ लेकर आगे बढ़ने के एजेंडे को पूरा करने के लिए सस्टेनेबल और इनक्लूसिव दोनों हैं।


बक्स्वाहा में ग्रामीणों द्वारा उठाए गए इस अग्रणी कदम से क्षेत्र में विकास को बढ़ावा देने से संबंधित एक अनूठा उदाहरण कायम होगा और इसे न केवल राज्य के लिए, बल्कि पूरे देश के लिए एक प्रेरणास्पद कहानी के रूप में देखा जाएगा।

Popular posts
अग्रवाल समाज का चतुर्थ निःशुल्क अभा युवक युवती परिचय सम्मेलन शनिवार से
Image
कांग्रेस महापौर प्रत्याशी के समर्थन में संजय शुक्ला की महारैली
Image
जेल में नजर आएंगे गुरु नानक अस्पताल के लालची डॉक्टर
Image
कैबिनेट की बैठक में फिर बदला महाकाल कॉरिडोर का नाम,,,,, अब इसे,, महाकाल लोक,,, के नाम से जाना जाएगा, आजादी के बाद पहली बार उज्जैन में हुई प्रदेश सरकार के कैबिनेट की बैठक
Image
प्रतिभा स्वराज प्राइवेट लिमिटेड एवं ओम साईं फरिश्ते फाउंडेशन द्वारा आईटीआई प्रशिक्षित महिलाओं को रोजगार हेतु साक्षात्कार(interview) का आयोजन
Image