रावण दहन भी अब ऑनलाइन

 


स्व. लाला अमरनाथ स्मृति 58 वें दशहरा महोत्सव का प्रतीकात्मक आयोजन -

25 फीट ऊँचे रावण के पुतले का दहन और सांकेतिक आतिशबाजी होगी



उज्जैन । शहर के प्राचीनतम दशहरा उत्सव का यह 58 वां वर्ष है और दशहरा मैदान पर

लाला अमरनाथ स्मृति दशहरा महोत्सव 15 अक्टूबर 2021 को प्रतीकात्मक रूप से

आयोजित किया जा रहा है । दशहरा मैदान पर होने वाले रावण दहन में कोरोना गाइडलाइन के

चलते लोगों और जनसमूह का आना प्रतिबंधित रहेगा ।

दशहरा महोत्सव समिति के अध्यक्ष ओम अमरनाथ खत्री ने अनौपचारिक पत्रकार वार्ता

में बताया कि प्रसिद्ध समाजसेवी लाला अमरनाथ की स्मृति में विगत 58 वर्षों से यह

आयोजन निरंतर किया जा रहा है और कोरोना महामारी के चलते पिछले वर्ष की तरह,

बार भी दशहरा उत्सव सांकेतिक रूप से , आयोजित किया जा रहा है | प्राचीनकाल से ही दशहरा

मैदान में यह उत्सव मनाये जाने की परम्परा रही है और किन्हीं कारणों से कुछ वर्षों तक रावण

दहन का आयोजन नहीं हो पाया था तब प्रख्यात समाजसेवी स्व. लाला अमरनाथ जी ने वर्ष

1963 में इसे पुनर्जीवित किया और तब से यह आयोजन प्रतिवर्ष आयोजित किया जा रहा है।

दशहरा उत्सव समिति के सचिवद्वय मनीष शर्मा एवं शिवा ओमप्रकाश खत्री ने बताया

कि प्रशासन के निर्देशों के अनुसार इस वर्ष केवल 25 फीट ऊँचे रावण का निर्माण किया जा

रहा है। आयोजन में आम नागरिक सम्मिलित नहीं हो सकेंगे क्योंकि गाइडलाइन के चलते

सांकेतिक रूप से रावण दहन किया जायेगा | आतिशबाजी भी सांकेतिक ही होगी | भगवान् श्री

राम - लक्ष्मण की सवारी दशहरा मैदान आयेगी जिसका पूजन कलेक्टर महोदय एवं पुलिस

अधीक्षक महोदय द्वारा किया जायेगा | लाइव रावण दहन कार्यक्रम देखने के लिए शहरवासियों

के लिए लिंक जारी की जायेगी । पत्रकार वार्ता में समन्वयक डा प्रकाश रघुवंशी , दिनेश दिग्गज

.

अशोक खत्री , कोमल खत्री , अश्विन खत्री ; अमित खत्री , रोबिन चोपड़ा , अमरनाथ सुगंधी

विकास जायसवाल , रीटू बग्गा , डा हरीशकुमार सिंह आदि उपस्थित थे |

Popular posts
122 साल पुराने उज्जैन के नक्शे को आधार बनाकर,,, तालाबों की जमीन हड़पने वालों पर शिकंजा कसेगा,,, उज्जैन जिलाधीश के निर्देश से जमीन पर कब्जा करने वालों में हड़कंप मचा
Image
उज्जैन कलेक्टर के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि,,,130 करोड़ रुपये कीमत की 3 हेक्टेयर जमीन शासकीय हुई,,,,पूर्णिमा सिंघी, प्रमोद चौबे और श्री राम हंस यह है तीन आधार स्तंभ जिनकी मेहनत और सच्चाई रंग लाई
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
उज्जैन के विश्वप्रसिद्ध महाकाल मंदिर परिसर में बिना अनुमति के युवती द्वारा वीडियो बनाकर वायरल किए जाने पर प्रकरण पंजीबद्ध
Image