बेरहम किस्मत,,,,, पत्नी ने अस्पताल में बच्चे को दिया जन्म, कोरोना संदिग्ध पति की अस्पताल में मौत

 



उज्जैन। 10 दिन पहले फांसी लगाकर आत्महत्या का प्रयास करने वाले पदमावति कालोनी कानीपुरा रोड़ पर रहने वाले युवक  की मौत हो गई,  युवक ने 10 दिन पहले फांसी लगाकर आत्महत्या का प्रयास किया था, परिजन उसे फंदे से उतारकर जिला अस्पताल ले गये जहां से उसे उपचार के लिए प्रायवेट अस्पताल में भेजा गया था।

यहां उपचार के दौरान युवक के कोरोना पॉजिटिव होने के लक्षण नजर आने पर युवक को गाइड लाइन के तहत माधव नगर अस्पताल भर्ती किया गया था ।

चिमनगंज पुलिस ने बताया कि पद्मावति कालोनी कानीपुरा रोड निवासी 34 वर्षीय युवक कलेक्टर सिंह पिता गुलाब सिंह परिहार ने करीब 10 दिनों पहले घर में फांसी लगाकर आत्महत्या का प्रयास किया। परिजनों ने उसे फंदे पर लटका देखा तो उतारकर जिला अस्पताल ले गये जहां से हालत गंभीर होने पर परिजन कलेक्टर सिंह को तेजनकर अस्पताल ले गये।

प्रायवेट अस्पताल में उसका उपचार जारी था। उपचार के दौरान ही कलेक्टर सिंह में कोरोना का लक्षण नजर आने पर उसे उपचार के लिए माधव नगर अस्पताल भेजा गया था।

जांच में पॉजिटिव आने पर उपचार दिया गया। कोविड नोडल अधिकारी एचपी सोनानिया के अनुसार उपचार के बाद 17 फरवरी को युवक की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव मिली थी, लेकिन स्वास्थ्य एकदम ठीक नहीं होने पर उसे उपचार दिया जा रहा था। बुधवार सुबह उसकी मौत हो गई। कलेक्टर सिंह की कोरोना से मृत्यु की सूचना चिमनगंज पुलिस को अस्पताल प्रशासन द्वारा दी गई। मामले में पुलिस द्वारा जांच की जा रही है।

Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
स्थानकवासी समाज के समाजसेवी सरदारमल राठौर का निधन
नवनियुक्त मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को उज्जैन तथा अन्य जिलों से आए जनप्रतिनिधियों कार्यकर्ताओं और परिचितों ने लालघाटी स्थित वीआईपी विश्रामगृह पहुंचकर बधाई और शुभकामनाएं दी
Image