तेरा साथ है तो,,,,,, उज्जैन में हुआ अनोखा विवाह



उज्जैन। शहर में हुआ एक अनोखा विवाह ,,, इस विवाह की हर और चर्चा है,,,,, दरअसल लगभग 80 वर्षीय बुजुर्ग शासकीय नौकरी से रिटायर्ड होने के बाद एकांकी जीवन व्यतीत कर रहे थे ,इसी बीच उन्हें एक विधवा महिला से प्यार हो गया ,मृत्यु के बाद पेंशन का भी दिल में ख्याल था, प्यार और पेंशन के चलते महिला से विवाह करने के बाद अब बुजुर्ग बेहद खुश नजर आ रहे हैं। उज्जैन में शुक्रवार को अतिरिक्त जिला न्यायाधीश (ADM)की कोर्ट में एक 80 वर्षीय बुजुर्ग ने 35 वर्षीय युवती से विवाह रचाने के लिए कागजी कार्यवाही पूरी की।


मीडिया इस घटना को कवरेज करना चाहता था, लेकिन युवती ने वीडियो कवरेज से मना कर दिया और कहा कि यदि मीडिया मुझे कवरेज देगा तो मैं आत्महत्या कर लूंगी ,ऐसे में मीडिया ने सवाल किया कि आप विवाह कर रही हैं कोई अपराध नहीं है यह एक अच्छा कार्य है जो हर व्यक्ति करता है, तो फिर आपको मीडिया से गुरेज क्यों? 


इस पर युवती ने कहा कि हम दोनों की उम्र में अंतर है और आप इसे केंद्र बिंदु बनाकर कवरेज करेंगे या मुझे अच्छा नहीं लगता।


मुझे तो सिर्फ इन की अदाएं भा गई इसलिए मैं इनसे शादी कर रही हूं ,इधर 80 वर्षीय बुजुर्ग इतने खुश दिखे कि उनके पैर ही जमीन पर नहीं टिक रहे थे, उनका कहना है कि वह अब अपने जीवन के सुख दुख बांट सकेंगे और वैवाहिक सुख के लिए सबसे पहले वे मुंबई घूमने जाएंगे आप इसे हनीमून का नाम भी दे सकते हैं।


जब बुजुर्ग से यह पूछा गया कि आ


पने इन 35 वर्षीय युवती को सबसे पहले कहां देखा तो उन्होंने बताया कि वह उनके यहां काम करती थी, और इनकी सादगी भा गई ऐसे में पता ही नहीं चला कि दोनों के बीच प्रेम अंकुरण कब और कहां हो गया और देखते ही देखते दोनों ने विवाह का फैसला कर लिया।


जब यह पूछा गया कि दोनों के बीच उम्र मैं लगभग 50 साल का अंतर है तो उन्होंने कहा जहां प्रेम होता है, वहां उम्र कहां आड़े आती है हम तो एक दूजे पर जान छिड़कते हैं। और अब एक दूसरे से अलग नहीं रह सकते थे इसलिए शादी का फैसला कर लिया ।दोनों कोर्ट परिसर में विवाह की रस्म अदायगी पूरी करना चाहते थे और सिग्नेचर होते ही दूल्हा एक्टिवा पर दुल्हन के साथ एक्टिव होकर चला गया। पूरे कोर्ट परिसर में आज की यह शादी चर्चा का विषय थी क्योंकि दूल्हा और दुल्हन के बीच 50 साल का फासला,,,

इस मामले में एडीएम संतोष कुमार टैगोर ने कहा कि विवाह जरूर हुआ है लेकिन निजता का ध्यान रखते हुए हम दोनों की पहचान जाहिर नहीं कर रहे हैं।

Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
पूर्व मंत्री बोले सरकार तो कांग्रेस की ही बनेगी
Image
नवनियुक्त मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को उज्जैन तथा अन्य जिलों से आए जनप्रतिनिधियों कार्यकर्ताओं और परिचितों ने लालघाटी स्थित वीआईपी विश्रामगृह पहुंचकर बधाई और शुभकामनाएं दी
Image