राम मंदिर के निर्माण को लेकर भी बहुत कुछ कह गए कुमार विश्वास,,,,,,, सुप्रीम कोर्ट , करोड़ों राम भक्त और मोदी जी की क्षमता पर सवाल उठाए,,,,,,,, विवाद बढ़ा तो माफी मांगी लेकिन माफी में भी रावण की तरह अहंकार भरे वचन बोल गए,,,,,

 





उज्जैन ।एक और जहां भारतीय जनता पार्टी ,राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण में स्वयं की भूमिका का बढ़-चढ़कर प्रचार कर रहे हैं और सत्ता पर काबिज है ,वहीं दूसरी ओर मध्य प्रदेश शासन के सांस्कृतिक विभाग, विक्रमादित्य शोध संस्थान उज्जैन और जिला प्रशासन उज्जैन के सहयोग से चल रहे विक्रम महोत्सव ,,,अपने अपने राम,,,, विषय पर लाखों रुपए वसूल कर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और प्रमुख आयोजकों तक को कौसने में कसर नहीं रखने वाले ,15 साल पहले तक प्रेमी प्रेमिका पर कविता लिखने वाले कथित राम भक्त कुमार विश्वास ने राम मंदिर निर्माण को लेकर सुप्रीम कोर्ट और देश के प्रधानमंत्री के साथ साथ खड़े करोड़ों राम भक्तों को इसका श्रेय देने के विपरीत,,,,, कुमार विश्वास ने कहा कि,,,, लोग कहते हैं कि राम मंदिर कौन बनवा रहा है? सुप्रीम कोर्ट बनवा रहा है ! कि मोदी जी बनवा रहे हैं! मैंने कहा भाई जिनके तुम नाम ले रहे हो या देश का कोई भी नागरिक उसकी क्षमता नहीं है कि ईश्वर का घर बनवा दे,,,,, कुमार विश्वास यही नहीं रुके वह बोले जिसकी रचना चांद सितारे, यह जमी,,, सोचो जरा उसका मंदिर तुम बनवाओगे ?अमा सोचो जरा ! हालांकि इसके बाद उन्होंने इसे भारत के लिए गर्व भी बताया. लगभग डेढ़ घंटे से ज्यादा की अपनी ,,अपने अपने राम,,, कथा कम राजनीतिक कटाक्ष ज्यादा वाले प्रवचन में उन्होंने मंच को राजनीति का अड्डा बना कर राजनीतिक दल "आप" का और" झाड़ू" का भी प्रचार किया, उन्होंने यह भी कहा कि पिछले 20 वर्षों से षडयंत्र पूर्वक आज की जनरेशन को जो कहानी सुनाई जा रही है उसमें पुरुषार्थ नहीं है ।उन्होंने मंच से ही भाजपा नेताओं की तरफ इशारा करते हुए यह भी कहा कि राज्यपाल ने शपथ दिलाई की "मैं सत्य निष्ठा से शपथ लेता हूं,,,, यह कितनी बार से ले रहे हैं इन्हें यह लाइन याद ही नहीं हो रही है ,,,,,3 लाइनें ही है,,, फिर लेंगे,,, फिर याद नहीं होगी,,,,, उन्होंने बजट और टैक्स को लेकर आर एस एस को अनपढ़ कहने के साथ-साथ मध्य प्रदेश सरकार पर कटाक्ष करते हुए यह भी कहा कि जब देवास से खराब सड़कों से गाड़ी निकलती है तो वहां भी आदमी रखो जो ₹500 वापस दे ।बड़बोले कुमार विश्वास ने यह भी कहा कि सरकार अनेक बार पूछती है कि आप क्या कर सकते हैं हमारे लिए मैंने कहा तुम्हारे राजनीतिक लाभ के लिए तो मैं कुछ नहीं कर सकता ,,,,राजनीति पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने यह भी कहा कि नेता वह बड़ा जो नेता तैयार करें नेता वह बड़ा नहीं जो स्वयं बड़ा हो जाए।

कुमार विश्वास को लेकर मध्य प्रदेश की राजनीति में तूफान खड़ा हो गया है भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ लीडर और नगर पालिक निगम के पूर्व सभापति सोनू गहलोत ने वहां उपस्थित नेताओं की चुप्पी पर भी सवाल खड़े किए हैं साथ ही उन्होंने सांस्कृतिक विभाग के पोस्टरों पर भी कालिख पोती है ,सिख समाज के सचिव ने भी कुमार विश्वास को माफी मांगने को कहा है इधर विवाद बढ़ते देख कुमार विश्वास ने माफ़ी तो मांगी है लेकिन अहंकार के साथ,,,,, उन्होंने एक लाइन की माफी के साथ-साथ माफीनामा मांगने वालों पर कटाक्ष किए हैं , अब देखना यह है कि उनकी यह माफी क्या सचमुच उन्हें माफ करती है या फिर माफीनामा से भी कोई बड़ा बवाल खड़ा होता है।

Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
स्थानकवासी समाज के समाजसेवी सरदारमल राठौर का निधन
नवनियुक्त मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को उज्जैन तथा अन्य जिलों से आए जनप्रतिनिधियों कार्यकर्ताओं और परिचितों ने लालघाटी स्थित वीआईपी विश्रामगृह पहुंचकर बधाई और शुभकामनाएं दी
Image