उज्जैन में होम स्टे योजना पूरे प्रदेश के लिए मॉडल बन सकती है -सिरोलिया

 


अपनी शर्तों पर घर के कमरे किराए पर देने की

' होम स्टे "योजना में 200 से अधिक उत्सुक नागरिकों ने भाग लिया, 




उज्जैन ।म.प्र . राज्य पर्यटन विकास निगम मध्यप्रदेश के अनेक शहरों में होम स्टे योजना का संचालन कर रहा है , उम्मीद है कि उज्जैन में यह योजना प्रारम्भ होने के बाद प्रदेश के लिए यह योजना रोल मॉडल बन सकती है , यह है म.प्र . दूरिज्म बोर्ड के सलाहकार प्रशांत सिरो लिया का , उज्जैन की होटल क्षिप्रा में आयोजित वर्कशाप में आए 200 से अधिक स्थानीय निवासी को अलग - अलग सत्र में योजना की जानकारी विस्तार से देते हुए इस योजना से जुड़कर आसानी से अपनी आय बढ़ाने का आव्हान करते हुए आपने बताया कि एक कमरे से लगाकर दस कमरे तक इस योजना में रजिस्टर्ड करवाए जा सकते है , उन्होंने बताया कि इस योजना के चार महत्वपूर्ण उद्देश्य है , पहला पर्यटक को भारतीय संस्कृति से अवगत कराना , दुसरा अतिरिक्त आवास उपलब्ध कराना , तीसरा पर्यटन के क्षेत्र में नीजि भागीदारी और चौथा स्थानीय स्तर पर नवीन रोजगार उपलब्ध कराना | आपने बताया कि प्रदेश के कुछ रिटायर्ड आईएएस भी होम स्टे योजना का लाभ ले रहे है । इस योजना का सबसे अच्छा पहलू यह है कि यह प्रदेश शासन के केविनेट से मंजूर होने के कारण व्यवसायिक होने के बावजूद न तो इसके लिए जीएसटी नम्बर लेना है और न अनेक तरह की एनओसी,, बिजली का मीटर भी घरेलू ही रहेगा साथ ही किराया भी मकान मालिक स्वयं तय कर सकेगा , थाने पर भी 15 दिन में एक बार जानकारी भेजना होगी , विदेशी मेहमान आने पर जरूर 24 घण्टे में सूचना देना अनिवार्य है । इसमें मकान मालिक अपनी शर्तो पर पर्यटक को अपना घर किराए पर दे दे सकता है । सिरोलिया ने बताया कि प्रदेश में अभी 180 होमस्टे पंजीकृत है, उज्जैन में वर्तमान में ऐसे २ होम स्टे ही पंजीकृत है , लेकिन नागरिकों की वर्कशाप में सहभागिल और उत्साह को देखते हुए लगता है कि प्रदेश में सर्वाधिक होम स्टे भविष्य में उज्जैन में ही रहेंगे । आपने यह भी बताया कि जो नागरिक अपना घर किराए पर दे रहा है वह वेज या नॉनवेज और शराब को लेकर भी अपनी शर्त रख सकता है उन्होंने उदाहरण देते हुए बताया की इंदौर के एक प्रतिष्ठित परिवार के फॉर्म हाउस पर पर्यटक इसलिए आते हैं कि उन्हें तरह-तरह की शराब के साथ-साथ मनपसंद घर का बना हुआ मास भी उपलब्ध हो जाता है, लेकिन उज्जैन जैसे धर्म स्थल पर होम स्टे योजना में पंजीकृत करवाने वाला व्यक्ति शराब के प्रतिबंध के साथ शुद्ध वेज की शर्त भी रख सकता है।

Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image
शहर के प्रसिद्ध चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ सुरेश समधानी द्वारा छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने की कोशिश
Image
नवनियुक्त मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को उज्जैन तथा अन्य जिलों से आए जनप्रतिनिधियों कार्यकर्ताओं और परिचितों ने लालघाटी स्थित वीआईपी विश्रामगृह पहुंचकर बधाई और शुभकामनाएं दी
Image