सावन, भादों मास के दौरान चलित भस्मार्ती दर्शन व्यवस्था ,,, उज्जैन वासियों को दर्शन हेतु 11 जुलाई से पृथक द्वार से प्रवेश

 

10 बेड के सर्व सुविधायुक्त हॉस्पिटल का निर्माण कराये जाने का भी निर्णय



 सावन भादव में रू . 1500 / - के जलाभिषेक की रसीद भी बंद रहेगी 


4.02 करोड रूपये की लागत से 02 हजार स्क्वॉयर फीट में एयरपोट की भांति जन सुविधा केन्द्र ( प्रसाधन ) निर्माण कराये जाने का अनुमोदन जिसमें माताओं हेतु मातृत्व कक्ष ( फीडिंग रूम ) भी बनाये जाने का निर्णय लिया


उज्जैन । श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति की बैठक श्री महाकाल महालोक कंट्रोल रूम में कलेक्टर एवं अध्यक्ष श्री कुमार पुरुषोत्तम की अध्यक्षता में दोपहर 12 बजे आयोजित की गई जिसमें श्री महाकालेश्वर भगवान की दर्शन हेतु श्रद्धालुओं की दर्शन व्यवस्था के संबंध में बैठक में निर्णय लिया गया कि 04 जुलाई से 11 सितम्बर तक श्री महाकालेश्वर भगवान के गर्भगृह दर्शन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा । इस दौरान रू . 1500 / - के जलाभिषेक की रसीद भी बंद रहेगी , साथ ही श्रद्धालुओं के सरल सुलभ दर्शन हेतु प्रशासन द्वारा चाक चौबंद व्यवस्थाएं की जा रही है । जिससे सभी श्रद्धालुओं को आसानी से दर्शन हो सके । श्री महाकालेश्वर मंदिर में श्रावण - भादों मास के दौरान प्रातःकालीन होने वाली भस्मात में चलित भस्मार्ती दर्शन व्यवस्था रहेगी , जिसमें श्रद्धालु चिना पंजीयन के चलित रूप से ( बिना रूके ) भस्मार्ती के दर्शन कर सकेंगे । बैठक में निर्णय लिया गया कि श्रावण - भादो माह में पहले से अनुमति प्राप्त कावड यात्री शनिवार , रविवार एवं सोमवार को छोड़कर मंगलवार से शुक्रवार तक द्वार क्रमांक 01 अथवा 04 से मंदिर में दर्शन हेतु प्रवेश कर सकेंगे । श्री महाकालेश्वर मंदिर में आगन्तुक श्रद्धालुओं की अत्यधिक संख्या होने से समयाभाव के कारण उज्जैन शहर में निवासरत श्रद्धालुओं की बाचा महाकाल के प्रति धार्मिक आस्था देखते हुए पृथक से दर्शन व्यवस्था बनाई जा रही है । 11 जुलाई को उज्जैन के प्रथम नागरिक महापौर श्री मुकेश टटवाल द्वारा स्थानीय जन सुविधा के लिये दर्शन व्यवस्था का प्रारंभ किया जावेगा । प्रत्येक सोमवार को निकलने वाली सवारी में पारंपरिक रूप से सम्मिलित होने वाली भजन मंडलियां ही सम्मिलित हो सकेंगी । इसके अतिरिक्त नवीन भजन मंडली को सवारी में सम्मिलित होने की अनुमति नहीं मिलेगी । भजन मंडलियों को नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा । • प्रशासक श्री संदीप कुमार सोनी ने बताया कि श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति द्वारा श्रद्धालुओं को लागत मूल्य पर लड्डू प्रसाद उपलब्ध कराया जाता है । मंदिर को वित्तीय हानि न हो इस हेतु लड्डु प्रसाद लागत मूल्य की गणना की गई वर्तमान में लड्डू प्रसाद लागत रु . 400.84 / - प्रतिकिलो आ रही है , इस प्रकार मंदिर को रू . 40.84 / - वित्तीय हानि हो रही है । लड्डू प्रसाद की दर में 100 ग्राम का पैकेट रू . 40 / - के स्थान पर रू . 50 / - 200 ग्राम का पैकेट रु . 80 / - के स्थान पर रू . 100 / - 500 ग्राम का पैकेट रू . 180 / - के स्थान पर रू . 200 / - तथा 01 किलो का पैकेट रू . 360 / - के स्थान पर रू . 400 / - किये जाने का निर्णय लिया गया । प्रतिवर्ष आयोजित होने वाले अखिल भारतीय श्रावण महोत्सव 2023 के कलाकारों के नामों का अनुमोदन किया गया , इस वर्ष श्रावण महोत्सव प्रत्येक शनिवार को आयोजित किया जावेगा । इस वर्ष कुल 30 कलाकारों को श्रावण महोत्सव में प्रस्तुति देने का अवसर प्राप्त होगा । बैठक में श्री महाकालेश्वर मंदिर एवं श्री महाकाल महालोक में आगन्तुक श्रद्धालुओं को मूलभूत सुविधाएं प्रदान करने के उद्देश्य से तीन स्थानों पर उज्जैन विकास प्राधिकरण के माध्यम से 4.02 करोड रूपये की लागत से 02 हजार स्क्वॉयर फीट में एयरपोट की भांति जन सुविधा केन्द्र ( प्रसाधन ) निर्माण कराये जाने का अनुमोदन किया गया जिसमें माताओं हेतु मातृत्व कक्ष ( फीडिंग रूम ) भी बनाये जाने का निर्णय लिया गया । श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति के समस्त रिकाडर्डो का डिजीटलाईजेशन करने के संबंध में उज्जैन विकास प्राधिकरण उज्जैन के माध्यम से ई - निविदा मंगवाई गई है , जिससे मंदिर के समस्त रिकार्डों का डिजीटलाईजेशन किया जाकर सुव्यवस्थित रखरखाव किया जा सके । बैठक में श्री महाकालेश्वर मंदिर द्वारा संचालित चिकित्सा इकाई के कुशल संचालन हेतु 10 बेड के सर्व सुविधायुक्त हॉस्पिटल का निर्माण कराये जाने का निर्णय लिया गया बैठक में श्री सचिन शर्मा , पुलिस अधीक्षक श्री मुकेश टटवाल महापौर श्री विनीत गिरी जी , महंत महानिर्वाणी अखाडा , श्री प्रदीप शर्मा ( गुरु ) , श्री राजेन्द्र शर्मा ( गुरू ) , श्री राम शर्मा अशासकीय सदस्य श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति श्री रोशन कुमार सिंह , आयुक्त नगर पालिक निगम , श्री अनुकूल जैन , अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी श्री संदीप सोनी प्रशासक श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति , सुश्री कृतिका भीमावत , उप प्रशासक श्री महाकालेश्वर मंदिर , श्री मूलचंद जूनवाल , श्री प्रतीक द्विवेदी सहायक प्रशासक श्री महाकालेश्वर मंदिर उपस्थित थे ।

Popular posts
बेटे के वियोग में गीत बनाया , बन गया प्रेमियों का सबसे अमर गाना
Image
ये दुनिया नफरतों की आखरी स्टेज पर है  इलाज इसका मोहब्बत के सिवा कुछ भी नहीं है ,मेले में सफलतापूर्वक आयोजित हुआ मुशायरा
पूर्व मंत्री बोले सरकार तो कांग्रेस की ही बनेगी
Image
नवनियुक्त मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव को उज्जैन तथा अन्य जिलों से आए जनप्रतिनिधियों कार्यकर्ताओं और परिचितों ने लालघाटी स्थित वीआईपी विश्रामगृह पहुंचकर बधाई और शुभकामनाएं दी
Image
उज्जैन के अश्विनी शोध संस्थान में मौजूद हैं 2600 साल पुराने सिक्के
Image