निजी अस्पताल दवाइयों के नाम पर नहीं लूट सकेंगे मरीजों को,,,,, जिलाधीश ने कसा शिकंजा

 रेमडेसिविर  व टाजूलोमेक   इंजेक्शन की अधिकतम कीमत तय कोविड  मरीजों को दी जाने वाली एंटीबायोटिक दवाएं भी कम कीमत वाली   प्रेसक्राइब करने के निर्देश  



कलेक्टर ने जारी किए आदेश 


उज्जैन 31 मार्च  । कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री आशीष सिंह ने आज एक आदेश जारी कर कोविड-19 मरीजों के उपचार में उपयोग में आने वाले  एंटीवायरल इंजेक्शन जिनमें  रेमडेसिविर की 2500  रुपए तथा  टाजूलोमेक   इंजेक्शन  की 3500 रु  प्रति इंजेक्शन निर्धारित कर दी है।  निर्धारित  दर से अधिक राशि  कोई भी नर्सिंग होम कोविड-19 पेशेंट से चार्ज नहीं करेगा । यही नहीं कलेक्टर ने कोविड-19 के मरीजों को दी जाने वाली एंटीबायोटिक दवाएं भी कम से कम कीमत की प्रेसक्राइब करने के लिए कहा है ।साथ ही     होम  क्वारन्टीन में रह रहे कोविड-19 मरीजों को पारस्परिक रूप से निर्धारित दर पर निजी अस्पताल देखभाल की सुविधा प्रदान करेंगे  । सभी अस्पताल  मरीजों की जानकारी प्रतिदिन सीएमएचओ ऑफिस को भेजेंगे ।



      कलेक्टर श्री आशीष  सिंह ने विगत द 30 मार्च को आयोजित  नर्सिंग होम के संचालको  की  बैठक में कोविड मरीजों के उचित प्रबंधन हेतु सहमति उपरांत उक्त आदेश जारी करते हुए जारी निर्देशों का पालन सुनिश्चित करने के लिए कहा है।

       उक्त आदेश का पालन नहीं करने पर अथवा सौंपे गए दायित्वों का निर्वहन नहीं करने पर इसे अत्यावश्यक सेवाओं में कार्य करने से इंकार की श्रेणी में माना जाएगा । संबंधित संस्था के विरुद्ध अत्यावश्यक सेवा संधारण तथा विच्छेद  निवारण अधिनियम 1979 की धारा 7 , आपदा प्रबंधन एक्ट  2005 की धारा 51 बी  ,56 एवं महामारी एक्ट 1897 की धारा 3 के प्रावधानों के साथ भारतीय दंड विधान की धारा 187, 188, 269 ,270 व  270 के तहत दंडात्मक कार्यवाही की जावेगी। कलेक्टर ने इसी के साथ मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया है कि वे की  वे प्रति सप्ताह  रेडमली 4 -  5  अस्पताल के मरीजों के बिलों की जांच करेंगे तथा यह सुनिश्चित करेंगे कि आदेशित किए गए बिंदुओं का कड़ाई से पालन हो रहा है या नहीं ।



   निजी नर्सिंग होम में कोविड-19 के लिए कुल 320 बेड आरक्षित


   निजी चिकित्सालयो द्वारा दी गई सहमति से कोविड-19 मरीजों के लिए  12 नर्सिंग होम में कुल 320 बेड आरक्षित किए गए हैं ।उक्त बेड में से कितने बेड आईसीयू , कितने वेंटीलेटर के व ऑक्सीजन बेड है की उपलब्धता की जानकारी एवं कोविड-19 भर्ती मरीजों की रिपोर्ट प्रतिदिन मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को करने के निर्देश दिए गए हैं  । 

        कोविड-19 के लिए संजीवनी हॉस्पिटल में 30 , पाटीदार हॉस्पिटल में 40  ,गुरु नानक हॉस्पिटल में 30 ,एसएस गुप्ता हॉस्पिटल में 20 ,जेके नर्सिंग होम में 30  ,बिरला हॉस्पिटल में 20 , तेजनकर हॉस्पिटल मे 30 , देशमुख  में 20, चैरिटेबल हॉस्पिटल में 30 ,  सी एच एल में 25  ,  सहर्ष  में 20 तथा पुष्पा मिशन हॉस्पिटल में 25  बेड आरक्षित हैं

Popular posts
Corona breaking,,,,,, पूरा परिवार आ रहा है पॉजिटिव,,,,,, पूर्व विधायक सहित 12 साल की मासूम चपेट में आई,,,,,, होलसेल दवा व्यापारी का पूरा परिवार संक्रमित,,,,, ऋषि नगर, विवेकानंद कॉलोनी और नानाखेड़ा हॉटस्पॉट बने,,,,,, पॉजिटिव आने वालों की चौका देने वाली 23% दर,,,,,, और भी बहुत कुछ,,,,,
Image
उज्जैन के चरक में भर्ती लड़की का वीडियो वायरल हुआ
Image
शादी वैवाहिक कार्यक्रम में अनुमति के साथ अधिकतम 50 व्यक्ति सम्मिलित हो सकेंगे
Image
5 दिन में 5 फोटोग्राफर मौत के मुंह में समा गए,,,,,
Image
राजनीति और धर्म के क्षेत्र की दो हस्तियों का दुखद निधन,,,,, कोरोना के कहर से कब उबरेगा शहर
Image